अमरूद ही नहीं, अमरूद की पत्तियां भी आपके लिए फायदेमंद, जानिए इनके 5 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ 

0
1

अमरूद हमारी पृथ्‍वी पर मौजूद सबसे स्वास्थ्यवर्धक फलों में से एक है। सिर्फ फल ही नहीं अमरूद के पत्तों को भी विभिन्न स्वास्थ्य लाभों के लिए इस्‍तेमाल किया जाता रहा है। अमरूद एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन सी, पोटेशियम और फाइबर जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। यही वजह है हर रोज अमरूद का सेवन महिलाओं के लिए आवश्‍यक पोषक तत्‍वों की आपूर्ति करता है। 

क्या आप जानती हैं, अमरूद का सेवन महिलाओं के लिए ज्‍यादा फायदेमंद क्‍यों है? पुरुषों की तुलना में महिलाओं को ऐसी कई समस्याएं होती हैं, जिनसे राहत पाना उनके लिए मुश्किल होता है। ऐसे में अमरूद का सेवन उनके लिए बेहद लाभकारी साबित हो सकता है।

अब आप सोच रही होंगी कि कैसे? खैर, हम यहां आपको यहां बता रहे हैं कि महिलाओं के लिए अमरूद कैसे फायदेमंद साबित हो सकता है। क्या आप इसके बारे में जानने के लिए उत्सुक हैं? चलिए तो बिना समय बर्बाद किए शुरू करते हैं।

1. दर्दनाक पीरियड्स में राहत देता है अमरूद 

कई महिलाएं डिसमेनोरिया (dysmenorrhea) का अनुभव करती हैं। इसमें मासिक धर्म के दर्दनाक लक्षण, जैसे पेट में ऐंठन का सामना करना पड़ता है। कई शोधों में यह सामने आ चुका है कि अमरूद का सेवन अथवा अमरूद की पत्ती का अर्क मासिक धर्म की ऐंठन की दर्द की तीव्रता को कम कर सकता है।

 

यह भी पढ़ें: हेल्‍दी बाल और स्किन चाहिए तो आहार में शामिल करें खसखस, यहां हैं खसखस के 5 स्वास्थ्य लाभ

इन दर्दनाक लक्षणों का अनुभव करने वाली 197 महिलाओं के एक अध्ययन में पाया गया कि रोजाना 6 मिलीग्राम अमरूद की पत्ती का अर्क लेने से दर्द की तीव्रता कम हो जाती है। यह कुछ दर्द निवारक दवाओं की तुलना में अधिक शक्तिशाली प्रतीत होता है।

अमरूद की पत्ती का अर्क भी गर्भाशय की ऐंठन से राहत देने में मदद करता है।

 

2. प्रजनन क्षमता के लिए संभावित लाभ

फाइबर, फोलेट, और विटामिन सी सहित पोषक तत्वों की प्रचुरता के कारण, अमरूद प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मददगार साबित हो सकता है।

 

यह भी पढ़ें: इस अध्ययन के अनुसार आपकी कमर का साइज आपके पेट के बैक्टीरिया से जुड़ा हुआ है, जानिए कैसे

अवलोकन संबंधी अध्ययनों से पता चलता है कि फोलेट की उच्च मात्रा वाला आहार लेने वाली महिलाओं में कम मात्रा में फोलेट का सेवन वाली महिलाओं की तुलना में गर्भावस्था की उच्च दर होती है।

इसके अलावा अमरूद में संतरे की तुलना में 4 गुना अधिक विटामिन-सी होता है। मध्यम वजन वाली महिलाएं जो अधिक विटामिन-सी युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करती हैं, वे उन लोगों की तुलना में तेजी से गर्भवती हो सकती हैं जिन्हें इस पोषक तत्व की पर्याप्त मात्रा नहीं मिलती है।

3. कैंसर के जोखिम को कम करता है

अमरूद की पत्ती के अर्क का एक एंटीकैंसर प्रभाव दिखाया गया है। टेस्ट-ट्यूब और जानवरों के अध्ययन से पता चलता है कि अमरूद का अर्क कैंसर कोशिकाओं की वृद्धि को रोक सकता है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि अमरूद में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं, जो कोशिकाओं को फ्री रेडिकल्स द्वारा पहुंचने वाली क्षति से बचाते हैं, जो कि कैंसर का एक मुख्य कारण है।

एक टेस्ट-ट्यूब अध्ययन में पाया गया कि अमरूद के पत्तों का तेल कैंसर की कुछ दवाओं की तुलना में कैंसर के विकास को रोकने में चार गुना अधिक प्रभावी था।

 

guava for cancer

4. इम्युनिटी को बूस्ट करता है

विटामिन सी का निम्न स्तर संक्रमण और बीमारी के बढ़ते जोखिम से जुड़ा हुआ है। इस पोषक तत्व को प्राप्त करने का अमरूद एक शानदार तरीका है, क्योंकि वे विटामिन सी के सबसे बेहतरीन स्रोतों में से एक हैं।

विटामिन सी एक स्वस्थ प्रतिरक्षा प्रणाली को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह रोगाणुरोधी लाभों से भी जुड़ा है। इसका मतलब यह है कि यह खराब बैक्टीरिया और वायरस को मारने में मदद करता है जिससे संक्रमण हो सकता है।

5. त्वचा के लिए फायदेमंद है

एक अमरूद में मौजूद विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट की विस्तृत श्रृंखला आपकी त्वचा के लिए अद्भुत काम कर सकती है। इसके एंटीऑक्सीडेंट आपकी त्वचा को नुकसान से बचा सकते हैं, जो कि उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं। साथ ही झुर्रियों को रोकने में मदद कर सकते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं, अमरूद की पत्तियों के अर्क को सीधे तौर पर अपनी त्वचा पर अप्लाई करने से मुंहासे का इलाज करने में भी मदद मिल सकती है।

 

यह भी पढ़ें: क्‍या पीसीओएस से निपटने में मदद कर सकते हैं सप्‍लीमेंट्स? जानिए क्‍या है इस पर विशेषज्ञों की राय

 

Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here